Breaking News
Home / अन्य समाचार / ब्लाइन्ड मर्डर का पर्दाफाश कर पुलिस ने दो आरोपियों को दबोचा

ब्लाइन्ड मर्डर का पर्दाफाश कर पुलिस ने दो आरोपियों को दबोचा

जयपुर 14 मई 2019 कानोता थाना पुलिस ने गत वर्ष 28 दिसम्बर 2018 में मीणो का बाढ में  हुई युवती की हत्या का पर्दाफाश करते हुए आरोपियों को गिरफ्तार किया है।
पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी गिर्राज उर्फ फौजी (34) व कालूराम मीणा (20) निवासी जमवारामगढ जिला जयपुर है। गिरफ्तार आरोपी  गिर्राज मीणा के विरूद्ध पूर्व में भी थाना जमवारामगढ लूट व अवैध शराब तस्करी के प्रकरण दर्ज है तथा जिला जयपुर पूर्व की थाना कानोता के टॉप 10 वांछित अपराधियों की सूची में भी शामिल है। जांच में सामने आया कि  आरोपी गिर्राज मीणा सीआरपीएफ में कांस्टेबल के पद पर भी कार्यरत रहा था जो वर्ष 2010 में नौकरी छोडकर आ गया था।
 पुलिस आयुक्त आनन्द श्रीवास्तव ने बताया कि 28 दिसम्बर 2018 को गोपाल  मीणा ने पुलिस को बताया कि उसकी 20 वर्षीय पुत्री हीरा मीणा साल की शादी वर्ष 2014 में राकेश मीणा निवासी इन्द्रगढ के साथ की थी जो अभी तक ससुराल नही जाती थी व उनके पास रहकर पढाई कर रही थी। 25 दिसम्बर को  वह सब  खाना खा कर सो गए थे तथा हीरा को 10 बजे तकघर पर ही पढाई कर रही थी।
उसके बाद रात्री को वह बिना बताए कही चली गई जिसकी वह आस पास व रिश्तेदारी में तलाश किया लेकिन कोई पता नही चला। इिसके बाद 28 दिसम्बर को हीरा की डेड बॉडी मीणा े के बाढ जंगल में पडी मिली,जिसकी किसी ने हत्या कर दी। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच पड़ताल की तो  मृतका हीरा मीणा की कालूराम मीणा से लगभग दो-तीन महिने से प्रेम प्रसंग चल रहा था।  इस बात का पता गिर्राज मीणो जो कि कालूराम का दोस्त हैको चलने पर उसने कालू से कहा कि हीरा से उसकी  भी दोस्ती करवा दे। इस के लिए 25 दिसम्बर के  दिन में कालूराम व मृतका हीरामीणा की आपस में बातचीत हुई व कालूराम ने  उसी दिन  हीरामीणा को उसके घर के पास ही राशन डीलर की दूकान पर रात्रि करीबन 10-11 बजे फाने पर बात कर मिलने के लिए बुला लिया और  कालूराम  मीणा व गिर्राज मीणा दोनो कालू की बाइक से उक्त डीलर की दूकान के पास पहुंचे जहा से हीरामीणा को अपने साथ बाइक  पर बैठाकर कालू  की डीजे की दूकान खटीको की ढाणी नौनपुरा लेकर आ गये। जहा पर दोनो हीरामीणा को कालू की दूकान के अन्दर ले गये व कालूराम मीणा हीरा मीणा को गिर्राज से दोस्ती करने व आपस में बातचीत करने हेतु दूकान के अन्दर हीरा व गिर्राज को छोडकर दूकान का शटर बन्द करके अपने दोस्त छोटू योगी के घर जाकर सो गया। जहा पर गिर्राज द्वारा मृतका हीरा के साथ दुष्कर्म  किया व हीरामीणा चिखने चिल्लाने तथा सुबह गांव के लोगो को घटना के बारे में बताने की कहने पर गिर्राज मीणा ने हीरामीणा की हत्या कर उसकी लाश को स्वयं की थार जीप में डालकर मीणों के बाढ जंगल में डाल कर फरार हो  गया तथा  कालूराम  मीणा द्वारा सुबह दूकान पर आकर हत्या के साक्ष्यो को मिटाने के लिये दूकान को धोकर साफ कर दिया व साक्ष्यो को मिटा दिया। पुलिस ने  वारदात के मुख्य अभियुक्त गिर्राज मीणा को जिला टोंक से तथा आरोपी कालू को आमा मोड नायला से13मई को गिरफ्तार किया गया।

About Patrika Jagat

Check Also

टोडारायसिंह तहसील के खरेड़ा की ग्राम सीमा में परिवर्तन

जयपुर 16 मई 2019 राज्य सरकार ने आदेश जारी कर टोंक जिले के टोडारायसिंह तहसील …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *