SBI LIFE INSURANCE-PATRIKA JAGAT

एसबीआई लाइफ ने कोविड-19 राहत प्रयासों में बड़े पैमाने पर लोगों की भागीदारी के लिए प्‍लेटफॉर्म उपलब्‍ध कराया

Edit-Rashmi Sharma

जयपुर 22 मई 2020 एसबीआई लाइफ इंश्‍योरेंस, भारत के सबसे विश्‍वसनीय निजी जीवन बीमाकर्ताओं में से एक, ने सोशल मीडिया पर एक अभियान शुरू किया। इस अभियान के जरिए लोगों को उन स्‍वास्थ्यकर्मियों को धन्‍यवाद देने के लिए प्रोत्‍साहित किया जा रहा है, जो कोविड-19 के खिलाफ इस लड़ाई में आगे बढ़कर देशवासियों की रक्षा के लिए अथक प्रयास कर रहे हैं। ‘वी कैन, वी विल! पहल का विस्‍तार,  प्रोटेक् दोज हू प्रोटेक् अस उद्देश्य के साथ, यह सोशल मीडिया अभियान लोगों को एक अनूठा मंच प्रदान करता है, ताकि वो लॉकडाउन के दौरान घरों में रहते हुए कोविड-19 के राहत प्रयास में शामिल हो सकें। इस अभियान का उद्देश्‍य ‘उनकी रक्षा करना है जो हमारी रक्षा करते हैं’।

महामारी से इस लड़ाई में ‘प्रोटेक्‍ट दोज हू प्रोटेक्‍ट अस के लिए, आप www.sbilife.co.in/WeCanWeWill पर लॉग-इन कर फ्रंटलाइन स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों का हौसला बढ़ाने के लिए उन्‍हें उत्‍साहवर्द्धक संदेश लिख सकते हैं। उपयोगकर्ता चुने हुए संदेश को सबमिट कर सकते हैं, डाउनलोड कर सकते हैं और #WeCanWeWill के साथ इसे सोशल मीडिया पर साझा कर सकते हैं। उपयोगकर्ता के संदेश को पीपीई किट्स पर लगाकर उसे फ्रंटलाइन स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों को दिया जायेगा, जो जमीनी स्‍तर पर काम कर रहे हैं।

इस पहल के बारे में श्री रविन्‍द्र शर्मा, चीफ ऑफ ब्रांड एंड कॉर्पोरेट कम्‍यूनिकेशन, एसबीआई लाइफ इंश्‍योरेंस ने कहा, ”जब समूचा देश लॉकडाउन में है, तब फ्रंटलाइन स्‍वास्‍थ्‍यकर्मी विषम स्थितियों में लगातार काम करे रहे हैं और कोविड-19 के प्रकोप को रोकने में पूरी जान से लगे हुए हैं। महामारी के खिलाफ इस जंग में देश उनके दृढ़संकल्‍प को देख रहा है कि एक तरफ, जहां वो अपना फर्ज निभा रहे हैं और वहीं दूसरी तरफ उन्‍हें स्‍वयं की सुरक्षा का भी ख्‍याल रखना है। ऐसे में स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों के प्रति लोगों में भारी कृतज्ञता की भावना है, जिसे सभी लोग प्रकट करना चाहते हैं। फ्रंटलाइन स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों के प्रति धन्‍यवाद ज्ञापित करने की लोगों की भावना को समझते हुए, ‘प्रोटेक्‍ट दोज हू प्रोटेक्‍ट अस’ पहल के जरिए एक ऐसा मंच उपलब्‍ध कराया जा रहा है जिसके जरिए लोग अपने घरों में सुरक्षित रहते हुए फ्रंटलाइन वॉरियर्स का उत्‍साहवर्द्धन कर सकते हैं। ऐसे में एसबीआई लाइफ न केवल इस संदेश को फ्रंटलाइन स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों तक पहुंचाने बल्कि उन्‍हें ‘प्रोटेक्‍ट दोज हू प्रोटेक्‍ट अस’ के संदेश के साथ पीपीई किट भी उपलब्‍ध कराने का वचन देता है।

उन्‍होंने आगे कहा, ”हमें उम्‍मीद है कि ‘प्रोटेक्‍ट दोज हू प्रोटेक्‍ट अस’ की हमारी सोशल मीडिया पहल हमें पूरे देश को सामूहिक रूप से साथ लाने में मदद करेगी और हम हमारे फ्रंटलाइन स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों का हौसला बढ़ा सकेंगे, जो कोविड-19 के प्रकोप को नियंत्रित करने में दिनरात जुटे हुए हैं।”