श्रम मंत्री टीकाराम जूली

रक्षाबंधन और ईद पर्व पर सोशल डिस्टेंसिंग का रखे विशेष ध्यान – श्रम मंत्री टीकाराम जूली

Edit-Swadesh Kapil

अलवर 31 जुलाई 2020 – श्रम राज्य मंत्री टीकाराम जूली ने प्रदेशवासियों से आगामी रक्षाबंधन और ईद-उल-अजहा जैसे बड़े धार्मिक त्यौहारों के दौरान सोशल डिस्टेंस्टिंग और कोरोना के प्रोटोकॉल की पालना करने का आव्हान किया है। उन्होंने कहा कि सभी नागरिक पर्वों के दौरान सजग और सतर्क रहेंगे तो कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव को कम करने में हम अपना अहम योगदान कर सकते हैं।
उन्होंने कहा कि अलवर जिले में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। जिसे देखते हुए जिला प्रशासन ने कोरोना संक्रमित  क्षेत्रों में लॉकडाउन लागू किया है। उन्होंने आमजन से अपील की है कि जिला प्रशासन का सहयोग करते हुए लॉक डाउन की पालना सुनिश्चित करें ताकि हम अलवर से कोरोना के संक्रमण चक्र को तोडऩे में कामयाब हो सकें।
श्री जुली ने कहा कि आगामी दिनों में रक्षाबंधन, ईद-उल-अजहा जैसे पर्व और पवित्र श्रावण मास का समापन भी है। ऐसे में घर-परिवार सहित विभिन्न स्थानों पर
आमजन की आवाजाही बढऩा सामान्य बात है। उन्होंने कहा कि इस दौरान यदि आमजन पूरी सावधानी बरतें और राज्य और केंद्र सरकार की गाइडलाइन की पालना करे तो कोरोना से बचाव किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि ईद-उल-अजहा के दिन के सभी मुस्लिम भाई घर पर ही नमाज अता करें और रक्षाबंधन पर सभी भाई-बहन सोशल डिस्टेंसिंग अपनाएं तो यह कदम न केवल हमारे परिवार और समाज बल्कि संपूर्ण राष्ट्र के लिए हितकारी होगा।
श्रम मंत्री ने कहा कि पर्वों के दौरान आमजन घर से बाहर निकलने से पहले यह तय कर लें कि किसी भीड़ या समूह में नहीं जाएं। बाहर निकलने से पहले मास्क से अपने नाक और मुंह को ठीक से ढक लें। बार-बार साबुन या सेनेटाइजर से हाथ साफ करते रहें। बच्चों और बुजुर्गों को कम से कम या बिल्कुल बाहर निकलने नहीं दें।
श्रम मंत्री ने कहा कि सरकार कोरोना के कुचक्र को तोडऩे का हर संभव प्रयास कर रही है। लेकिन कोरोना की इस चेन को तोडऩे में अहम भूमिका आमजन की है। यदि लोग कोरोना की भयावहता को देखते हुए सावधानी बरतेंगे तो हम समय रहते कोरोना को हरा सकेंगे।