आवारा पशुओं के विचरण से विद्याधर निवासियों में जन आक्रोश

Editor-Rashmi Sharma

जयपुर 10 दिसंबर 2020 – विद्यधर पुलिस थाने के सी. एल.जी सदस्य एवम जयपुर जिला शांति एवम विकास समिति के सक्रिय सदस्य रवि शंकर धाभाई ने विद्यधर नगर निगम के उपायुक्त महोदय को भेजे संदेश में मांग की है कि इन दिनो विद्यधर नगर में आवारा गाय और कुत्ते रोड पर ही मल मूत्र कर लोंगो के घरों के सामने करते है जिससे रोड खराब हो जाती है एवं बदबू भी आती है और बीमारियों फैलने की संभावना बनी रहती है।

* आवारा पशुओं का सार्वजनिक सड़को पर विचरण घूमना अवैध है। किसी भी समय वाहनो की दुर्घटना हो सकती है। पुर्व में हो भी चुकी है। इस बाबत राजस्थान उच्च न्यायालय के सरकार को सख्त आदेश पालन हेतु है।

जिन घरो के बाहर एवम सडक पर लगाए पौधे लगा रखे है उन्हे आए दिन आवारा गाय खा जाती है।

कचरा प्लास्टिक इत्यादि की इनके द्वारा खाना खतरनाक है।

इनके मालिक हर रोज इनको सुबह पहले चारा नही डालते है और भूखी गायों को इन्हें सार्वजनिक रोड पूरे विद्यधर में विचरण कर कच्चा खाने को छोड़ देते है। इन लोगों ने अवैध दुध की डेरियों चला रखी है जब कि आवासीय कॉलोनी में प्रशासन पुनः एक अभियान चलाकर और जांच करवाई जानी चाहिए । इस बाबत भी पहले से आवासीय कॉलोनी में रोक है।

इस वार्ड 24 में अमानीशाह नाले के कुते भी सैक्टर में आ गए है और झुंड में रहते है बच्चों के लिए काटने की संभावना बनी रहती है। अमानीशाह नाले में गत वर्षो में एक जिंदा बच्चे को खाकर मार डाला था। इस प्रकार की घटनाएं पुनः नही हो सके इसलिए इन आवारा कुत्तों को किसी अन्य जगह ले जाकर छोड़ा जाए या आवश्यक कार्रवाई कर वापस उसी एरिया में छोड़ दे । पालतू कुत्ता रखने पर भी नागरिकों को जयपुर नगर निगम से लाइसेंस लेना पड़ता है। प्रायः देखा जाता है कि इन पालतू कुतो के मालिक भी इन्हें मल मूत्र सार्वजनिक सड़को पर कराते है जो कि गैर कानूनी है

कुते दिन एवम रात में वाहन जब रोड पर चलते है तो उनके पीछे भागते है जिससे दुर्घटना हो कि संभावनाएं बनी रहती है।

वार्ड 24 सेक्टर 4 की निवासी चेल्सी गुप्ता ने भी रूप कंवर पार्षद महोदया को इस संबंध में उचित कार्रवाई करा उन्हें अवगत करा कर इस समस्या का तुरंत प्रभाव से निवारण करने का अनुरोध किया है ।।

About Patrika Jagat