मकर सक्रांति पर राजस्थानी फिनि की मिठास

Editor-Dinesh Bhardwaj

जयपुर 12 जनवरी 2021  – मकर सक्रांति का त्यौहार हो और घर में फिनि की मिठास  पतंगबाजी के साथ खुशी को और त्यौहार को नया ही राजस्थानी लुक देती है। वैसे तो सांभर की फीणी मशहूर है लेकिन जयपुर के वासियों के लिए संजय बाजार स्थित पितलिया की घेवर और फीणी की दुकान सब को अपनी ओर आकर्षित करती है। वैसे इस दुकान पर 12 महीने यह दोनों राजस्थान की मशहूर मिठाई यहां उपलब्ध रहती है लेकिन मकर सक्रांति पर पतंगबाजी के साथ फिनि की मिठास नहीं हो तो वह आनंद नहीं आता। जयपुर वासी अपनी पसंदीदा मिठाई फीणी लेने के लिए यहां दूर-दूर से आते हैं। दुकानदार का कहना है कि मकर सक्रांति के लिए वह लोग विशेष फीणी तैयार करते हैं और ग्राहकों की सुविधा के लिए अलग से काउंटर भी लगाते हैं। अभी कोरोना गाइडलाइन की पालना करते हुए हम ग्राहक की सेवा में लगे हुए हैं पिछले कई दिनों से हम फीणी तैयार करने में लगे हैं। वैसे कोरोना लॉक डाउन के बाद से अब तक बाजार में लोगों का खरीदारी के प्रति रुझान थोड़ा कम है लेकिन हमारा मानना है कि मकर सक्रांति पर फीणी और घेवर दोनों की अच्छी खरीदारी होगी। दुकान के मालिक सत्यनारायण पिपलिया ने बताया कि हमारे यहां देसी घी से बनी हुई फीणी और घेवर हमेशा से लोगों को अपनी ओर आकर्षित करते हैं लॉकडाउन के बाद तीज पर दुकानदारी इतनी नहीं हुई जितनी मकर सक्रांति पर होने की उम्मीद है हमारे यहां की मिठाई घेवर और फिनी लोग जयपुर के बाहर अपनों को और अपनी रिश्तेदारी में भी भेजने के कारण बाहर के लोग भी अब यहां आने लगे हैं।