आईआरबी इंफ्रा के लिए वित्तीय वर्ष 2022-23 की आशाजनक शुरुआत, पहली तिमाही में प्रॉफिट आफ्टर टैक्स 363 करोड़ रुपए, समेकित आय 1,995 करोड़ रुपए

मुंबई, 06 अगस्त, 2022- राजमार्ग क्षेत्र में भारत की पहली एकीकृत बहु-राष्ट्रीय इंफ्रास्ट्रक्चर कंपनी आईआरबी इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपर्स लिमिटेड ने पहली तिमाही में 363 करोड़ रुपए का प्रॉफिट आफ्टर टैक्स दर्ज किया है। इस दौरान कंपनी की समेकित आय 1,995 करोड़ रुपए रही। इस तरह सालाना आधार पर बढ़ोतरी क्रमशः 405 प्रतिशत और 19 प्रतिशत रही।

कंपनी ने आज मुंबई में आयोजित बोर्ड बैठक में वित्तीय वर्ष 2022-23 की 30 जून 2022 को समाप्त पहली तिमाही के लिए अपने वित्तीय परिणामों की घोषणा की।

इस अवसर पर टिप्पणी करते हुए आईआरबी इन्फ्रास्ट्रक्चर डेवलपर्स लिमिटेड के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर श्री वीरेंद्र डी. म्हैस्कर ने कहा, ‘‘कंपनी ने शानदार तरीके से तिमाही की शुरुआत की है, क्योंकि इस दौरान महामारी के प्रभाव को पीछे छोड़ते हुए सामान्य कारोबारी गतिविधियों ने फिर से रफ्तार पकड़ ली है। हमने प्राइवेट इनविट को हस्तांतरित सभी नौ संपत्तियों के साथ-साथ आईआरबी की पहली एचएएम परियोजना को सफलतापूर्वक पूरा कर लिया है। इसके अलावा, हमने पूरे प्रोजेक्ट पोर्टफोलियो में टोल संग्रह में साल-दर-साल 75 प्रतिशत की मजबूत वृद्धि हासिल की है। इसके साथ ही हमने सभी नए अनुबंधों के लिए वित्तीय क्लोजर हासिल किया और निर्माण भी शुरू किया है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमने अपने व्यापार मॉडल की एसेट मोनेटाइजेशन स्ट्रेटेजी को भी गति प्रदान की है और वडोदरा किम एचएएम परियोजना को पब्लिक इनविट की पेशकश की है। अब हमारा ध्यान उच्च सुरक्षा और गुणवत्ता मानकों के साथ नई परियोजनाओं को समय पर पूरा करने पर है। साथ ही हम अपने वैश्विक भागीदारों के सहयोग से इस क्षेत्र में आगामी नए अवसरों को भी प्रभावी ढंग से तलाश रहे हैं।’’

 

Highlights of Q1FY23:

Particulars  

Q1FY23

(In Crs)

 

 

Q1FY22

(In Crs)

Total Income 1995 1,670
EBITDA 1131 745
Finance costs 385 468
Depreciation and amortisation 203 136
Profit Before Tax 543 141
PAT before share of JV 397 106
Share of Profit (Loss) from JV (34) (34)
PAT after share of JV 363 72
Cash Profit 600 242

 

Toll Collections for Q1FY23 v/s Q1FY22:

(Amount in Rs. Crores)

Months IRB Infra Projects

 

Private InvIT Projects Total % Change
Q1FY23 Q1FY22 Q1FY23 Q1FY22 Q1FY23 Q1FY22
April 166.96 114.81 160.08 81.83 327.04 196.64 66.31%
May 180.87 101.31 162.64 62.01 343.51 163.32 110.33%
June 169.96 129.76 159.16 83.10 329.12 212.86 54.62%
Total 517.79 345.88 481.88 226.94 999.67 572.82 74.52%

              

  • कंपनी के निदेशक मंडल ने 5 अगस्त, 2022 को हुई अपनी बैठक में गुजरात राज्य में 1,297 करोड़ रुपये के उद्यम मूल्य पर वडोदरा किम एचएएम परियोजना को आईआरबी इनविट फंड में स्थानांतरित करने को मंजूरी दी। प्रोजेक्ट के लिए प्रोविजनल सीओडी अप्रैल 2022 में प्राप्त हुआ था। परियोजना के हस्तांतरण के बाद, आईआरबी के समेकित ऋण से 955 करोड़ रुपए तक का कर्ज कम हो जाएगा। इसके अलावा, आईआरबी को 342 करोड़ रुपए प्राप्त होंगे, जो आवश्यक अनुमोदन के अधीन है।
  • कंपनी ने अपनी पठानकोट अमृतसर बीओटी परियोजना के लिए एनएचएआई से 419 करोड़ रुपए के कुल आर्बिट्रेशन अवार्ड (मुआवजा) के पेटे 75 प्रतिशत की राशि यानी 308 करोड़ रुपए प्राप्त किए, जो पब्लिक इनविट का हिस्सा है। इस प्रोजेक्ट के लिए कंपनीएक ईपीसी ठेकेदार थी।
  • एनएचएआई से नियत तारीख की प्राप्ति के बाद, पश्चिम बंगाल में पलसित दानकुनी बीओटी परियोजना पर निर्माण गतिविधि शुरू हुई। यह देश के पूर्वी क्षेत्र में पहली परियोजना है। इसके साथ ही हिमाचल प्रदेश में पठानकोट मंडी एचएएम परियोजना पर भी निर्माण संबंधी गतिविधियांे की शुरुआत हो चुकी है।
  • उत्तर प्रदेश में प्रतिष्ठित मेरठ बदायूं एक्सप्रेसवे बीओटी परियोजना के लिए फाइनेंशियल क्लोजर हासिल किया गया। यह प्रोजेक्ट गंगा एक्सप्रेसवे परियोजना का हिस्सा है; और तमिलनाडु में चित्तूर ठाचूर एचएएम परियोजना। हम उम्मीद कर रहे हैं कि दोनों प्राजेक्ट्स के लिए जल्द ही नियत तारीखों की घोषणा की जाएगी।

 

  • राजस्थान में किशनगढ़ गुलाबपुरा बीओटी परियोजना, जो कि कंपनी की निजी इनविट शाखा, आईआरबी इंफ्रास्ट्रक्चर ट्रस्ट का हिस्सा है, के हाल ही में पूरा होने के बाद, शुरू में ट्रस्ट को हस्तांतरित सभी नौ परियोजनाओं को पूरा कर लिया गया है और अब टैरिफ दरों में वृद्धि के अनुरूप टोलिंग कर रहे हैं।

About Patrika Jagat