महिंद्रा अपने विद यू हमेशा एप्‍प पर डिजिटल तरीके से ली जाने वाली प्रत्‍येक सर्विस के बदले में एक वृक्ष लगायेगा

Edit-Rashmi Sharma

जयपुर 05 जून 2020 महिंद्रा एंड महिंद्रा लिमिटेड, जो 20.7 बिलियन डॉलर वाले महिंद्रा समूह का एक घटक है, ने विश्‍व पर्यावरण दिवस के अवसर पर घोषणा की कि अगले 25 दिनों तक यानि कि 5 जून, 2020 तक यह ग्राहकों द्वारा डिजिटल तरीके से हासिल की गयी प्रत्‍येक सर्विस के बदले में एक वृक्ष लगायेगा। महिंद्रा के विद यू हमेशा एप्‍प पर बुकिंग से लेकर भुगतान तक की अपनी सर्विस प्रक्रिया पूरा कर लेने के बाद, ग्राहक दुनिया में एक वृक्ष लगाने में सहयोग दे सकते हैं।

जितने अधिक वृक्षों के लिए डिजिटल माध्‍यम से सर्विस कराई जायेगी, उतने वृक्ष महिंद्रा के प्रोजेक्‍ट हरियाली में शामिल हो जायेंगे और अराकू वैली में लॉकडाउन प्रतिबंधों में ढील दिये जाने के साथ ही, वहां उतनी संख्‍या में वृक्ष लगाये जायेंगे।

महिंद्रा की सर्वोच्‍च प्राथमिकताओं में पर्यावरण शामिल है और यह अपने सभी कार्यों में इसका ध्‍यान रखता है। क्‍लीन इंजन्‍स से लेकर इसके चैनल पार्टनर्स के यहां टिकाऊ परिचालन सुनिश्चित करने तक, महिंद्रा इस दुनिया को हरा-भरा, साफ-सुथरा और रहने की बेहतर जगह बनाने की दिशा में सतत प्रयासरत है।

पर्यावरण पर सकारात्‍मक प्रभाव

महिंद्रा, अपने आफ्टर-सेल्‍स डिजिटल प्‍लेटफॉर्म – विद यू हमेशा के साथ ग्राहकों के ऑटोमोबाइल सर्विस अनुभव को डिजिटल रूप में रूपांतरित करने में अग्रणी रहा है। महिंद्रा ने हाल ही में पूर्णत: डिजिटलीकृत कॉन्‍टैक्‍टलेस सर्विस की घोषणा की। इस डिजिटलीकरण के जरिए ग्राहकों को न केवल सुरक्षा और सुविधा प्रदान की जा रही है, बल्कि इससे डिजिटल सेवा द्वारा पर्यावरण पर अधिक सकारात्‍मक प्रभाव भी बढ़ता है। इससे 40 प्रतिशत कागज की बचत होती है जो पहले सर्विस सेंटर्स में प्रिंटिंग के लिए इस्‍तेमाल किया जाता था।

 महिंद्रा हमेशा से यह कोशिश करता रहा है कि कारों की धुलाई में खर्च होने वाले पानी को बचाने हेतु ड्राइ-वॉश का तरीका अपनाया जाये, और यह इस हेतु एम-इकोवॉश की सुविधा प्रदान कर रहा है। एम-इकोवॉश पानी की बचत के साथ कार की धुलाई करने का विकल्‍प है, जिससे कार धोने के परंपरागत तरीकों के मुकाबले 260 लीटर पानी बच जाता है। इसके संयुक्‍त रूप से इको-फ्रेंड्ली क्‍लीनिंग कंपाउंड्स (ड्राइ/फोम) और विशिष्‍ट तकनीकों (हाई प्रेशर वाटर/स्‍ट्रीम) का उपयोग किया जाता है, जिससे कारों की सबसे अच्‍छी सफाई होती है और पानी का उपयोग 100 प्रतिशत तक कम हो जाता है। पूरे भारत के ग्राहकों ने कार धोने की इस तकनीक की सराहना की है और जुलाई’19 में इसकी शुरूआत के बाद से इससे जबरदस्‍त तरीके से उपयोग में लाया है

:

  • वाटर-सेविंग तरीके से लगभग 66 हजार कारों की धुलाई हुई
  • 17 मिलियन लीटर से अधिक पानी की बचत हुई है

कंपनी द्वारा ग्राहकों के लिए अपने घरों पर स्‍वयं से इस तरह की वाटर-सेविंग तकनीकों के जरिए कार की धुलाई करने हेतु डीआईवाई किट्स भी उपलब्‍ध कराया जाता है।