बांदीकुई में नौनिहालों की जान के दुश्मन बन रहे निजी स्कूल

Editor Sohan Lal

बांदीकुई 26 सितम्बर 2020 -बांदीकुई में नौनिहालों की जान के दुश्मन बन रहे निजी स्कूल बच्चे बुलाए जा रहे हैं स्कूल न मास्क न सोशल डिस्टेंसिंग सरकारी गाइडलाइन की आड़ में चल रही क्लास बांदीकुई उपखंड के काटवाड़ा स्कूल में उड़ रही नियमों की धज्जियां फीस वसूली के पेच में बच्चों की जान से खेल रहे गुरुजी शिक्षा विभाग और प्रशासन के अफसरों की बड़ी

कोरोना काल में निजी विद्यालय संचालित न मास्क न सोशल डिस्टेंस बच्चों की जिंदगी के साथ हो रहा है खिलवाड़ उच्च अधिकारी नहीं दे रहे हैं ध्यान बांदीकुई उपखंड का है मामला अर्चना पब्लिक स्कूल में कई दिन से नियमित कक्षाएं संचालित हैं

राज्य सरकार एवं केंद्र सरकार ने कोरोना महामारी के चलते सरकारी एवं निजी विद्यालयों के संचालन पर रोक लगा रखी है पर बांदीकुई उपखंड क्षेत्र के काठवाड़ा गांव में अर्चना पब्लिक सीनियर सेकेंडरी स्कूल संचालित है जिसमें करीब 200 बच्चे नियमित अध्ययन कर रहे हैं जिनके बीच में सोशल डिस्टेंसिंग का प्रयोग भी नहीं हो रहा है नहीं मास्क लगाए हुए हैं बच्चे जबकि मौके पर सैनिटाइजर स्क्रीनिंग की भी कोई व्यवस्था नहीं थी उच्च अधिकारी इन निजी संस्थाओं पर कोई ध्यान नहीं दे रहे हैं जिससे निजी विद्यालय संचालक बच्चों की जिंदगी खतरे में डालकर अध्ययन कर आ रहे हैं

About Patrika Jagat