इस शिक्षक दिवस, निहार शांति पाठशाला फनवाला ने हमारे बचपन के हीरोज-हमारे शिक्षकों का अभिनंदन किया!

Edit-Rashmi Sharma

भारत 6 सितंबर 2020 – निहार शांति पाठशाला फनवाला ने इस शिक्षक दिवस हमारे शिक्षकों की कड़ी मेहनत के लिए उन्‍हें धन्‍यवाद देने व सम्‍मानित करने का अभियान चलाया। विशेषकर इस महामारी के दौरान चुनौतीपूर्ण स्थितियों में शिक्षकों ने जिस लगन व परिश्रम का परिचय देते हुए छात्रों के लिए लगातार पढ़ाई-लिखाई सुनिश्चित की, वह प्रशंसनीय है। भारत में शिक्षा प्रणाली पूर्णत: ऑनलाइन हो गयी। हालांकि, यह छात्रों के लिए जितना चुनौतीपूर्ण रहा है, शिक्षकों के लिए भी उतना ही चुनौतीपूर्ण रहा है, जिन्‍हें ऑनलाइन शिक्षा प्रदान करने के लिए नये-नये कौशल सीखने पड़े।

इस अत्‍यंत वास्‍तविक एवं मजेदार डिजिटल फिल्‍म के जरिए, बच्‍चों की शिक्षा को हमेशा से प्रोत्‍साहन देने वाले इस ब्रांड का उद्देश्‍य बचपन के दिनों के उन हीरोज को हार्दिक संदेश देना है – शिक्षकों के प्रति आभार प्रकट करना है, ताकि देश का भविष्‍य शिक्षित रहे।

कोविड-19 के प्रकोप ने भारत में शिक्षा के बुनियादी ढांचे को बाधित किया है। हालांकि छात्रों के लिए घर से सीखना मुश्किल हो गया है, लेकिन यह उन शिक्षकों के लिए भी उतना ही चुनौतीपूर्ण है, जिन्हें ऑनलाइन शिक्षा प्रदान करना सीखना था। इस पर संज्ञान लेते हुए और इस विश्वास से प्रेरित होकर कि शिक्षा हमारे देश की प्रगति की आधारशिला है, निहार शांति पाठशालाफुंवाला ने मध्य प्रदेश सरकार के साथ भागीदारी की और एक गैर सरकारी संगठन साझेदार लीपोरवर्ड के साथ मिलकर शिक्षकों को आगे बढ़ाने का काम किया। इस डिजिटल-प्रथम पहल के साथ, निहार शांति पाठशाला फुनवाला ने लॉकडाउन के दौरान अंग्रेजी शिक्षा को बेहतर बनाने में मदद करने के लिए 50,000 शिक्षकों को सफलतापूर्वक प्रशिक्षित किया है। ये शिक्षक ग्रामीण भारत में बच्चों को निर्बाध शिक्षा प्रदान करने में सहायक रहे हैं, जबकि स्कूल बंद रहे। शिक्षकों का यह समर्पण है कि वे प्रभावी ढंग से सिखाने के लिए सीखें कि निहार शांति अमला का उद्देश्य सम्मान और धन्यवाद देना है।

इस अभियान के बारे में बात करते हुए मारिको लिमिटेड के मुख्य विपणन अधिकारी, कोशी जॉर्ज ने कहा, “निहार शांति पाठशाला फनवाला हमेशा बच्चों की शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार करने के लिए प्रतिबद्ध है, यह दृढ़ विश्वास है कि यह हमारे राष्ट्र के विकास का आधार बनता है। इस दृष्टि के सच्चे मशालधारी और प्रबुद्ध हमारे शिक्षक और उनकी दृढ़ता रहे हैं, यहाँ तक कि इन कोशिशों के दौरान भी। इस अभियान के माध्यम से, हम अपने बच्चों को निरंतर शिक्षा प्राप्त करने के लिए बदलते परिवेश में उन्हें पुनः साझा करने और अपनाने के लिए उनके प्रयासों के लिए उन्हें सलाम और धन्यवाद देते हैं। हमारा उद्देश्य ग्रामीण भारत में शिक्षकों को अंग्रेजी भाषा सिखाने के लिए जारी रखना है। एक अद्वितीय डिजिटल-पहला दृष्टिकोण जो यूट्यूब और व्हाट्सएप जैसी सर्वव्यापी तकनीकों का उपयोग करता है, अंग्रेजी शिक्षा में सुधार करने में मदद करने के लिए ऑनलाइन प्रशिक्षण, सामग्री और शिक्षण युक्तियों के साथ शिक्षक को सशक्त बनाता है। आज, 50,000 से अधिक शिक्षक इस यात्रा का हिस्सा हैं और हम शिक्षा की शक्ति का दोहन करने के लिए और अधिक प्रयास में शामिल होने की उम्मीद करते हैं और इस तरह अपने छात्रों के जीवन में सकारात्मक बदलाव लाते हैं।”

निहार शांति अमला अपने वंचित बच्चों को शिक्षा के अवसरों और पहुंच प्रदान करने के अपने उद्देश्य के लिए सही बना हुआ है, इसके लाभ का 5% योगदान है। निहार शांति पाठशाला फनवाला की पहल के तहत, ब्रांड आईवीआर-आधारित स्पोकन इंग्लिश प्रोग्राम, ऐप-आधारित वर्चुअल स्कूल और व्हाट्सएप आधारित शिक्षक सशक्तीकरण कार्यक्रम जैसे विभिन्न कार्यक्रमों को सक्रिय रूप से चला रहा है ताकि बच्चों की शिक्षा का समर्थन किया जा सके। यह पहल भारत के हिंदी भाषी राज्यों में कार्यान्वयन के लिए तकनीकी रूप से सक्षम है। इसके अलावा, राष्ट्रव्यापी तालाबंदी के दौरान, निहार शांति पाठशालाफनवाला ने पढ़ाईपेलॉकडाउननहीं अभियान शुरू किया, जो यह सुनिश्चित करता है कि छात्र घर पर भी सुरक्षित रूप से अंग्रेजी सीख सकते हैं।

मैरिको लिमिटेड के विषय में

मैरिको (BSE: 531642, NSE: “MARICO”) भारत की प्रमुख उपभोक्‍ता उत्‍पाद कंपनियों में से एक है। यह वैश्विक सौंदर्य एवं वेलनेस के क्षेत्र में परिचालन करती है। वर्ष 2019-20 के दौरान, मैरिको ने भारत और एशिया व अफ्रीका के चुनिंदा बाजारों में अपने उत्‍पादों की बिक्री के जरिए 73.1 बिलियन (1.03 बिलियन अमेरिकी डॉलर) का टर्नओवर दर्ज कराया है।

मैरिको अपने ब्रांड्स जैसे कि पैराशूट, पैराशूट एडवांस्‍ड, सफोला, सफोला फिट्टिफाई गॉर्मेट, कोको सोल, हेयर एंड केयर, निहार नैचुरल्‍स, लिवॉन, सेट वेट, सेट वेट स्‍टूडियो एक्‍स, ट्रू रूट्स, काया यूथ O2, मेडिकर और रिवाइव के पोर्टफोलियो के जरिए प्रत्‍येक 3 भारतीयों में से 1 भारतीय के जीवन में शामिल है। समूह के राजस्‍व में अंतर्राष्‍ट्रीय कंज्‍यूमर प्रोडक्‍ट्स पोर्टफोलियो का योगदान लगभग 23 प्रतिशत है। अंतर्राष्‍ट्रीय उपभोक्‍ता उत्‍पादों के पोर्टफोलियो में पैराशूट, पैराशूट एडवांस्‍ड, हेयरकोड, फियांसी, कैविल, हरक्‍यूलस, ब्‍लैक चिक, कोड 10, इन्‍गेज, एक्‍समेन, सेड्योर, थुआन फाट और आइसोप्‍लस शामिल हैं।