इंस्‍टामोजो ने लॉकडाउन के बाद से जुड़े मर्चेंट की संख्‍या में 70% वृद्धि दर्ज करायी

Editor-Manish Mathur

जयपुर 10 दिसंबर 2020 -इंस्‍टामोजो, जो एमएसएमई के लिए फुल-स्‍टैक प्रदाता है, ने पिछली दो तिमाहियों में देश के 2 लाख से अधिक छोटे व्‍यवसायों को डिजिटल तरीके से सक्षम बनाया है। दरअसल, प्‍लेटफॉर्म के आंकड़ों से पता चला कि प्‍लेटफॉर्म से जुड़े 70 प्रतिशत से अधिक मर्चेंट्स इससे पूर्व किसी रूप में ऑनलाइन या डिजिटल दुनिया से जुड़े नहीं रहे हैं। महामारी के चलते लगभग 360 डिग्री डिजिटल बदलाव लाये जाने के साथ, आज व्‍यवसायों द्वारा स्‍वयं को बचाये रखने और बदलते ग्राहक खंड की आवश्‍यकताएं पूरी करने हेतु ऑनलाइन समाधान अपनाये जा रहे हैं। इंस्‍टामोजो, मर्चेंट्स को अनेक डिजिटल उत्‍पाद व समाधान उपलब्‍ध कराता है जैसे कि ऑनलाइन भुगतान, ऋण सेवाएं, लॉजिस्टिक्‍स, ई-कॉमर्स एवं मार्केटिंग।

महामारी के शुरुआती दिनों के बाद, शिक्षा से लेकर आईटी, फूड एवं रिटेल, मनोरंजन, ट्रैवल, धर्म, खिलौने व उपहार जैसी विभिन्‍न श्रेणियों के व्‍यवसाय, इंस्‍टामोजो के प्‍लेटफॉर्म से जुड़े। इस प्‍लेटफॉर्म पर शिक्षा एवं रोजगार क्षेत्र से अधिकतम साइ-अप किये गये, जो मर्चेंट पूल के लगभग 20 प्रतिशत हैं और इसके बाद, 15 प्रतिशत के साथ सेवा क्षेत्र का स्‍थान रहा। अलाभकारी, एवं वित्‍तीय सेवा उत्‍पादों जैसे क्षेत्रों का क्रमश: 4 प्रतिशत और 2.61 प्रतिशत का योगदान रहा। कुछ क्षेत्रों का प्रतिनिधित्‍व और प्रतिशत योगदान नीचे दिया गया है:

क्षेत्र शामिल मर्चेंट्स का %
शिक्षा और रोजगार 20
सेवाएं 15
पुस्‍तक और पत्रिकाएं 9.58
बिजनेस-टू-बिजनेस 7.06
कपड़ा और एसेसरीज 6.56
अलाभकारी 4
वित्‍त सेवाएं और उत्‍पाद 2.61
धर्म और अध्‍यात्‍म 0.42
पालतू पशु और जानवर 0.30

 

टायर 1 शहरों के छोटे व्‍यवसायों के मर्चेंट्स ने सबसे अधिक साइन-अप किये और इस सूची में दिल्‍ली सबसे ऊपर रहा, जिसके बाद पुणे, हैदराबाद, बेंगलुरू और मुंबई का स्‍थान रहा।

रैंक क्षेत्र साइन-अप्‍स का %
1 दिल्‍ली 13
2 पुणे 11
3 हैदराबाद 9
4 बेंगलुरू 8
5 मुंबई 7.5

 

टायर 2 शहरों के भी अनेक मर्चेंट्स डिजिटल तरीके अपनाये। पटना, लखनऊ, जयपुर, अहमदाबाद, भुवनेश्‍वर, भोपाल और गुवाहाटी, इस सूची में सबसे ऊपर रहे। लुधियाना, रायपुर, मेरठ और इम्‍फाल के उत्‍तर-पूर्वी शहर के मर्चेंट्स ने भी प्‍लेटफॉर्म पर साइन-अप किये।

अपने विचार व्‍य‍क्‍त करते हुए, इंस्‍टामोजो के सह-संस्‍थापक और सीओओ, आकाश गेहानी ने कहा, मौजूदा समय, चुनौतियों के बीच विकास का वास्‍तविक प्रमाण है। महामारी द्वारा पैदा की गयी विभिन्‍न बाधाओं के साथ, डिजिटल लहर को लाना भी महत्‍वपूर्ण था, जिसने देश भर के एमएसएमई की डिजिटल प्रगति के रास्‍ते खोले। जिन परंपरागत व्‍यवसायों ने डिजिटल बदलाव को नकारते हुए पुराने ढर्रे से चिपके रहे, उनके लिए यह एक शुरुआती बिंदु है जो डिजिटल इंडिया की बड़ी सोच को सार्थक करने में भी सहायक है।

उन्‍होंने आगे बताया, हालांकि, शहरी क्षेत्रों के लिए डिजिटल जिंदगी कोई नयी बात नहीं थी, लेकिन हमारे लिए यह देखना काफी दिलचस्‍प रहा कि जयपुर, अहमदाबाद, इंदौर और पटना जैसे टायर 2 शहरों ने डिजिटल तरीकों को अपनाने के प्रति काफी झुकाव प्रदर्शित किया – कोविड से पहले के समय की तुलना में, इन शहरों में डिजिटल तरीकों का प्रयोग काफी तेजी से बढ़ा है। इन बाजारों केक छोटे व्‍यवसायों के लिए पहली बार ऑनलाइन मौजूदगी दर्ज कराने हेतु इस महामारी ने प्रेरक का काम किया। भुगतान से लेकर ऑनलाइन शॉप स्‍थापित करने संबंधी हमारे विशिष्‍ट डिजिटल समाधानों के जरिए, इंस्‍टामोजो का उद्देश्‍य देश भर के छोटे व्‍यवसायों को उपयुक्‍त डिजिटल समाधानों के जरिए सशक्‍त बनाना है।

इंस्टामोजो के विषय में:

इंस्टामोजो, माइक्रो, मीडियम एवं स्मॉल एंटरप्राइजेज (एमएसएमई) के लिए विकास का गेटवे प्लेटफॉर्म है, जो उन्हें उनके कारोबार को ऑनलाइन बनाने, प्रबंधित करने और आगे बढ़ाने में मदद करता है। यह उद्यमी के लिए वन-स्टॉप शॉप है, जो तकनीक, डेटा, डिजाइन का उपयोग कर उनकी विभिन्न कारोबारी आवश्यकताओं को पूरा करता है। सम्पद स्वेन, आकाश गेहानी और आदित्य सेनगुप्ता द्वारा वर्ष 2012 में स्थापित, इंस्टामोजो ने शुरू में जापानी पेमेंट्स कंपनी – एनीपे से प्री-सीरीज बी फंडिंग जुटाई। नवंबर 2014 में, कंपनी ने कलारी कैपिटल, ब्लुम वेंचर्स, 500 स्टार्टअप्स एवं अन्य से सीरीज ए फंडिंग में 2.6 मिलियन अमेरिकी डॉलर जुटाये। इससे पहले, इसने 500 स्टार्टअप्स, ब्लुम वेंचर्स और एंजेल इन्वेस्टर्स राजन आनंदम, सुनील कालरा, शैलेष राव, रॉब डे ह्युस आदि से लगभग 500,000 अमेरिकी डॉलर जुटाये थे। वर्ष 2012 में, इंस्टामोजो भारत के उन पहले स्टार्टअप्स में से एक था, जो प्रतिष्ठित 500 स्टार्टअप्स सिलिकन वैली एक्सलरेटर प्रोग्राम से जुड़ा। इसे वर्ष 2015 में इकॉनमिक टाइम्स द्वारा सबसे हॉट स्टार्ट-अप में से एक के रूप में भी प्रदर्शित किया गया है। इंस्टामोजो डिजिटल कॉमर्स में महत्वपूर्ण नवाचार लाने हेतु लगातार प्रयासरत है, जो एमएसएमई के लिए नये-नये अवसर एवं टिकाऊ आजीविका के साधन पैदा करने हेतु सार्वभौमिक रूप से एसेसिबल है।