stellar-performance-by-indian-archers-at-archery-world-cup-stage-i-at-guatemala
stellar-performance-by-indian-archers-at-archery-world-cup-stage-i-at-guatemala

एनटीपीसी द्वारा समर्थित भारतीय तीरंदाजों ने प्रतियोगिता में जीते 3 स्वर्ण और 1 कांस्य पदक

Editor-Rashmi Sharma 

जयपुर 28 अप्रैल 2021 – भारतीय तीरंदाज दीपिका कुमारी, अतनु दास, अंकिता भगत और कोमलिका बारी ने ग्वाटेमाला में हाल ही में संपन्न तीरंदाजी विश्व कप (स्टेज -1) में शानदार प्रदर्शन किया। महिला और पुरुष व्यक्तिगत रिकर्व इवेंट में दीपिका कुमारी और अतनु दास ने अपने-अपने वर्ग में स्वर्ण पदक हासिल किए।

आर्चरी एसोसिएशन ऑफ इंडिया (एएआई) के साथ एनटीपीसी तीरंदाजी के सभी राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंटों के लिए योगदान कर रही है।

महिला रिकर्व टीम में शामिल दीपिका कुमारी, अंकिता भगत और कोमलिका बारी ने स्वर्ण पदक हासिल किए, जबकि अंकिता भगत और अतनु दास की भारतीय मिश्रित रिकर्व टीम ने कांस्य पदक जीता।

अपनी कॉरपोरेट सोशल रिस्पॉन्सिबिलिटी (सीएसआर) के तहत, भारत की सबसे बड़ी एकीकृत ऊर्जा कंपनी एनटीपीसी लिमिटेड ने आर्चरी एसोसिएशन ऑफ इंडिया (एएआई) के साथ भागीदारी की है। इस साझेदारी के माध्यम से एनटीपीसी का लक्ष्य भारतीय युवाओं को अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए प्लेटफाॅर्म प्रदान करना और तीरंदाजी के क्षेत्र में भारत की प्रतिष्ठा को बढ़ाना है।

65,825 मेगावाट की कुल स्थापित क्षमता के साथ, एनटीपीसी समूह में 26 नवीकरणीय परियोजनाओं सहित 70 पावर स्टेशन हैं। समूह के पास निर्माणाधीन 18 गीगावॉट क्षमता है, जिसमें 5 गीगावॉट नवीकरणीय ऊर्जा परियोजनाएं शामिल हैं। किफायती कीमतों पर पर्यावरण के अनुकूल ऊर्जा परियोजनाओं के माध्यम से बिजली की निर्बाध आपूर्ति एनटीपीसी की पहचान रही है।