dealshare-records-5x-growth-in-fy20-fy21
dealshare-records-5x-growth-in-fy20-fy21

डीलशेयर ने वित्तीय वर्ष 20-21 में दर्ज की 5 गुना बढ़ोतरी

Editor-Manish Mathur

नेशनल, 28 अप्रैल, 2021ः सामुदायिक सामुहिक खरीद के लिए भारत का अग्रणी ई-काॅमर्स डीलशेयर, देश में खरीददारी का तरीका बदलने पर ध्यान केन्द्रित कर रहा है, कंपनी ने आज घोषणा की है कि इसने पिछले वित्तीय वर्ष में 5 गुना बढ़ोतरी दर्ज की है। मार्च 2021 में, महामारी के चलते आर्थिक प्रणाली हिलने के बावजूद कंपनी ने 1 मिलियन से अधिक आॅर्डर पूरे किए और 3 लाख उपभोक्ताओं को अपनी सेवाएं प्रदान कर $150ड की जीएमवी रनरेट पार कर ली। अब तक डीलशेयर के साथ 2.5 लाख से अधिक उपभोक्ता जुड़ चुके हैं और कंपनी महाराष्ट्र, राजस्थान, गुुजरात, कर्नाटक एवं एनसीआर पर ध्यान केन्द्रित करते हुए हर माह 15000 नए उपभोक्ताओं के साथ जुड़ रही है।
इस अवसर पर श्री विनीत राव, संस्थापक एवं सीईओ, डीलशेयर ने कहा, ‘‘हम हमेशा से भारत की खरीददारी के तरीके को नए आयाम देने के लिए प्रयासरत रहे हैं तथा इसी मार्ग पर आगे बढ़ते रहें हैं। वास्तव में, अपनी शुरूआत से ही हमने महसूस किया कि हमारे लक्षित उपभोक्ता मध्यम एवं निम्न आयवर्ग से हैं, जो मूल्य के प्रति सजग हैं और उनकी ज़रूरतों को पूरा नहीं किया जा रहा है। प्रोडक्ट असाॅर्टमेन्ट हो या खरीद का तरीका जैसे सामुहिक खरीद, डीलशेयर हमेशा से उनकी हर ज़रूरत को पूरा करने के लिए तत्पर रहा है। हम न केवल किफ़ायती दरों पर गुणवत्तापूर्ण उत्पाद उपलब्ध कराकर उपभोक्ताओं को खरीददारी का बेजोड़ अनुभव प्रदान करते हैं, बल्कि उनकी खरीद को अनुकूल बनाने के लिए पूरा प्रयास करते हैं। अपने लक्षित उपभोक्ताओं की ज़रूरतों को समझना हमारे लिए कारगर साबित हुआ है। हमारे विकास की तीव्र गति इस बात की पुष्टि करती है कि उपभोक्ता भी हमारे इस दृष्टिकोण को पसंद कर रहे हैं। हम सम्पूर्ण कारोबार प्रणाली के लिए स्थायी वातावरण के निर्माण के लिए कार्यरत हैं, जहां पूंजी-प्रभावी तरीकों के साथ साल-दर-साल व्यापारियों की कमाई भी बढ़ती रहे।’’
इस अवसर पर श्री सौर्जयेंदु मेड्डा, चीफ़ बिज़नेस आॅफ़िसर एवं चीफ़ फाइनैंस आॅफिसर, डीलशेयर ने कहा, ‘‘उपभोक्ता पर ध्यान केन्द्रित करना हमें सबसे अलग बनाता है। आज देश भर के उपभोक्ता मूल्य के प्रति सजग हैं और हमारा भोगौलिक प्रसार एवं विकास इसी के साथ तालमेल बनाए रखे हुए हैं। यहां तक कि बड़े महानगरों में मूल्य के प्रति सजग उपभोक्ताओं की बड़ी संख्या है, जो ब्राण्ड के नाम से ज़्यादा गुणवत्ता को महत्व देते हैं। जहां एक ओर, हम एनसीआर, मुंबई और बैंगलोर जैसे महानगरों को कवर करते हैं, वहीं दूसरी ओर चोमू, दौसा और नड़ियाद जैसे छोटे शहरों को भी अपनी सेवाएं प्रदान कर रहे हैं। पिछले वित्तीय वर्ष में 800 से अधिक नए पिनकोड्स और 2 मिलियन से अधिक उपभोक्ता हमारे साथ जुड़े हैं। राजस्व की बात करें तो राजस्थान की हिस्सेदारी सबसे ज़्यादा बनी हुई है, जो हमारे राजस्व में 45 फीसदी योगदान दे रहा है। इसके बाद महाराष्ट्र और गुजरात एक साथ मिलकर 45 फीसदी योगदान देते हैं। हमने $150ड से अधिक जीएमवी रनरेट दर्ज किया है, हमें उम्मीद है कि इस वित्तीय वर्ष में भी हम 50 फीसदी माह-दर-माह का विकास जारी रखेंगे। अगले वर्ष के दौरान हमने अपनी पहुंच को 10000 पिन-कोड्स तक विस्तारित करने, 250 मिलियन से अधिक लोगों को अपनी सेवाएं प्रदान करने तथा 10000 से अधिक परिवारों को रोज़गार उपलब्ध कराने की योजना बनाई है।’’
डिस्कवरी-उन्मुख माॅडल पर संचालित डीलशेयर के माध्यम से उपभोक्ता अपने लिए तो खरीददारी कर ही सकते हैं, साथ ही अपने दोस्तों के साथ डील्स शेयर कर सामुदायिक खरीद यानि कम्युनिटी काॅमर्स को भी बढ़ावा दे सकते हैं। डीलशेयर ने डीलशेयर दोस्त जैसे कई नए सीजीबी माॅडल्स शुरू किए हैं और आज मध्यम एवं निम्न आय वर्ग के लिए अनुकूल प्लेटफाॅर्म बन चुका है। डीलशेयर के इन्हीं प्रयासों के चलते उपभोक्ताओं द्वारा दोबारा खरीद के रूझान बढ़े हैं। डीलशेयर पर दोबारा खरीद की दर 80 फीसदी है।

‘‘कोविड की पहली लहर को देखते हुए यह ज़रूरत महसूस की गई कि अब लोगों की रोज़मर्रा की ज़रूरतों को डिजिटल माध्यमों से ही पूरा किया जा सकता है, यहां तक कि छोटे नगरों के लिए भी डिजिटल सेवाओं का महत्व बहुत अधिक बढ़ गया। ऐसे में पहली बार आॅनलाईन राशन खरीदने वाले उपभोक्ताओं की संख्या तेज़ी से बढ़ी। हम अपनी बात करें तो नए उपभोक्ताओं के साथ-साथ कार्ट के मूल्य में भी तेज़ी से बढ़ोतरी हुई है। पिछले एक साल में औसत कार्ट मूल्य रु 500 से बढ़कर रु 800 तक पहुंच गया है। कोविड की मौजूदा लहर इन बदलावों को और अधिक सशक्त बनाएगी। हम इस बदलाव के अनुसार उपभोक्ताओं की ज़रूरतों को पूरा करने के लिए तैयार हैं।’’ श्री सौैर्जयेन्दु मेड्डा ने अपनी बात को जारी रखते हुए कहा।
डीलशेयर की सबसे खास बात यह है कि यह सिस्टम को मजबूती देता है तथा मूल्य के प्रति सजग उपभोक्ताओं को फायदा पहुंचाता है। साथ ही इसने स्थानीय निर्माताओं को भी अपना कारोबार तेज़ी से बढ़ाने में मदद की है। ‘‘हम पिछले 2 सालों से डीलशेयर के साथ जुड़े हुए हैं। उन्होंने मेरे स्थानीय ब्राण्ड को राष्ट्रीय ब्राण्ड बनाने में मदद की है। मुझे खुशी है कि आज मैं देश भर में उपभोक्ताओं को अपनी सेवाएं प्रदान कर रहा हूं।’’ जयपुर से श्री राम भुजिया के मालिक रमेश जी ने बताया। ‘‘हमें हर महीने डीलशेयर से 16000 सेे अधिक आॅर्डर मिलते हैं। उन्होंने मेरे जैसे छोटे से कारोबारी को सशक्त बनाया है, आज इस मुश्किल समय में उनकी वजह से मैं अच्छी कमाई कर पा रहा हूं।’’ जयपुर से एक कम्युनिटी लीडर एवं सूक्ष्म-उद्यमी प्रथमेश ने कहा।
हर खरीददारी को सर्वश्रेष्ठ बनाने के अलावा, डीलशेयर ने राजस्थान, गुजरात, महाराष्ट्र और कर्नाटक के 200 से अधिक क्षेत्रीय निर्माताओं के विकास में भी मदद की है और वर्ष के अंत तक इस आंकड़े को दोगुना करने की योजना बना रही है। डीलशेयर के साथ साझेदारी के चलते ये ब्राण्ड बाज़ार में अपनी पहुंच बढ़ा पाए हैं और पिछले एक साल में उनकी बिक्री में 6 गुना बढ़ोतरी हुई है।