एसीसी ट्रस्ट ने सुरक्षित ड्राइविंग को प्रोत्साहित करते हुए ट्रक चालकों को दिया उनके बच्चों के लिए उम्मीद से भरपूर भविष्य का भरोसा

मुंबई, 14 सितंबर, 2021- सड़क सुरक्षा हमारे देश में हमेशा ही गहरी चिंता का विषय रहा है। यह एक ऐसा मसला है, जिससे लोगों और परिवारों के स्वास्थ्य और कल्याण पर असर पड़ रहा है। मुद्दे की गंभीरता को ध्यान में रखते हुए, एसीसी लिमिटेड ट्रक ड्राइवरों के बीच सुरक्षित ड्राइविंग को प्रोत्साहित करने के अपने प्रयासों पर ध्यान केंद्रित कर रहा है। ये ऐसे ट्रक ड्राइवर हैं, जो कंपनी के लॉजिस्टिक सिस्टम का एक जरूरी हिस्सा हैं।

इस कार्यक्रम के तहत देश भर में ड्राइवर प्रबंधन केंद्र स्थापित किए गए हैं, ताकि वास्तविक समय के डेटा की निगरानी की जा सके और ट्रांसपोर्ट एनालिटिक्स सेंटर (टीएसी) और इन-व्हीकल मॉनिटरिंग सिस्टम (आईवीएमएस) प्लेटफॉर्म के माध्यम से ट्रक ड्राइवरों के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी हासिल की जा सके। . इस तरह के प्रयासों से न केवल ऑफसाइट घटनाओं और चोटों में कमी आई है बल्कि ड्राइवर समुदाय के बीच एक सुरक्षित ड्राइविंग संस्कृति को विकसित करने में मदद मिली है। विभिन्न पुरस्कार और मान्यता कार्यक्रम भी सड़क सुरक्षा संदेशों को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाने और इसे मजबूत बनाने में मदद करते हैं।

ड्राइवरों को सुरक्षा उपायों को अपनाने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए, एसीसी लिमिटेड की कॉरपोरेट सोशल रिस्पॉन्सिबिलिटी (सीएसआर) शाखा एसीसी ट्रस्ट ने ऑनलाइन छात्रवृत्ति कार्यक्रम विद्यासारथीशुरू किया है। इसके तहत ट्रक ड्राइवरों के बच्चों को उच्च शिक्षा हासिल करने में सक्षम बनाने का प्रयास किया जाता है और इस दिशा में उनकी मदद करने के लिए उन्हें वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है, ताकि वे अपने सपनों को साकार कर सकें।

इस कार्यक्रम का उद्देश्य बच्चों के भविष्य को सुरक्षित ड्राइविंग के साथ जोड़ना है। इसके तहत बच्चों की ट्यूशन फीस का 80 प्रतिशत तक हिस्सा प्रायोजित किया जाता है, अगर ड्राइवर आवश्यक मापदंडों को पूरा करते हैं। सड़क सुरक्षा को विद्यासारथीछात्रवृत्ति कार्यक्रम से जोड़ने से ट्रक चालकों के बच्चे, जो उच्च शिक्षा प्राप्त करने के इच्छुक हैं, वे अपने माता-पिता को दृढ़ विश्वास के साथ सड़क सुरक्षा मानदंडों का पालन करने के लिए प्रेरित करते हैं। इन जुड़ावों के पीछे का पूरा विचार मजबूत प्रभावशाली परिवारों को सड़क सुरक्षा के दायरे में शामिल करना है।

एसीसी लिमिटेड के एमडी और सीईओ श्री श्रीधर बालकृष्णन ने कहा, ‘‘एसीसी में, हम मानते हैं कि सड़क सुरक्षा एक आवश्यकता है, न कि केवल प्राथमिकता। सड़क सुरक्षा को बच्चों की शिक्षा से जोड़कर, हम लोगों के जीवन को बदलने और लोगों के लिए एक बेहतर दुनिया बनाने के लिए अपनी प्रतिबद्धता व्यक्त कर रहे हैं। हमारे विद्यासारथीछात्रवृत्ति कार्यक्रम के माध्यम से, हमारा उद्देश्य कई युवाओं को उनकी वित्तीय बाधाओं को दूर करने और अकादमिक उत्कृष्टता और विविध कैरियर के अवसरों को हासिल  करने के लिए प्रोत्साहित करना है। इस अनूठे कार्यक्रम के माध्यम से हम शिक्षा और सड़क सुरक्षा जागरूकता के माध्यम से कल के लिए जिम्मेदार नागरिक बनाने में मदद कर रहे हैं।’’

विद्यासारथी छात्रवृत्ति हासिल करने वाले ऐसे ही एक छात्र नितिन ने कहा, ‘‘एसीसी का विद्यासारथी छात्रवृत्ति कार्यक्रम मेरे जीवन में एक आशीर्वाद के रूप में आया। हमारी कमजोर आर्थिक स्थिति के कारण अपनी पढ़ाई के लिए शैक्षिक सहायता प्राप्त करना मेरे लिए बहुत मुश्किल था। लेकिन मेरे पिता के ड्राइवर सेफ्टी स्कोर ने मुझे यह स्कॉलरशिप दिलाने और तकनीकी शिक्षा हासिल करने के अपने सपनों को पूरा करने में मदद की। अब, मैं अपने कॉलेज की फीस का भुगतान कर सकता हूं और अपने माता-पिता के वित्तीय बोझ को भी कम कर सकता हूं।’’

सड़क सुरक्षा और विद्यासारथी कार्यक्रम पूरे भारत में 10,000 से अधिक ड्राइवरों को प्रभावी रूप से लाभान्वित करेगा। कार्यक्रम के पायलट चरण में 51 ड्राइवरों के बच्चे इस छात्रवृत्ति से लाभान्वित हुए और इन वर्षों में, 3-5 लाख लाभार्थियों को कवर करने की उम्मीद है।

इस छात्रवृत्ति कार्यक्रम के माध्यम से, एसीसी लिमिटेड का उद्देश्य आप करें सुरक्षित ड्राइविंग और हम रखेंगे आपके बच्चों के भविष्य का ख्यालके अंतर्निहित संदेश को फैलाना है।

एसीसी लिमिटेड के कारोबार के तरीके में कर्मचारियों और सभी हितधारकों का स्वास्थ्य और सुरक्षा एक ऐसा पहलू है, जिसके बारे में कोई समझौता नहीं किया जा सकता है। कंपनी लोगों को शून्य नुकसान के साथ व्यवसाय प्रथाओं का संचालन करने और कर्मचारियों, ठेकेदारों, समुदायों और ग्राहकों के लिए एक स्वस्थ और सुरक्षित वातावरण बनाने की इच्छा रखती है।

About Patrika Jagat