आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता एवं मीडिया प्रभारी मयंक त्यागी ने मीडिया को संबोधित

Editor- Manish Mathur

जयपुर 21 मईः  “जान है तो जहान है”। लेकिन जहाँ जान पर सवालिया निशान है, वह राजस्थान है। आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता एवं मीडिया प्रभारी मयंक त्यागी ने, आमजन के स्वास्थ्य के साथ हो रहे खिलवाड़ और प्रदेश में बदहाल चिकित्सा सेवाओं को लेकर कांग्रेस सरकार पर सवालिया निशान खड़े किए। सहकार मार्ग स्थित पार्टी मुख्यालय में मीडिया को संबोधित करते हुए त्यागी ने कहा “एक राज्य तभी आगे बढ़ सकता है, जब उस राज्य के नागरिक शिक्षित हों, उनके पास रोजगार हो और उन्हें पूरी चिकित्सा सेवाएं उपलब्ध हो”

मयंक त्यागी ने सरकार को आड़े हाथों लेते हुए आरोप लगाया कि गहलोत सरकार, जनता के स्वास्थ्य के प्रति नहीं, बल्कि अपनी सरकार बचाने के लिए प्रतिबद्ध नजर आ रही है।

एक तरफ जहाँ कोटा में एमबीएस अस्पताल के आईसीयू में भर्ती महिला की पलक कुतरने की घटना सामने आई, वहीं दूसरी तरफ बाड़मेर के सरकारी अस्पताल के डिलीवरी रूम में 14 वर्षीय नाबालिग के साथ दुष्कर्म किया गया। इतना ही नहीं, आरोपी ने अश्लील फोटो और वीडियो बनाकर उसे वायरल करने की धमकी भी दी। ये घटनाएं दर्शाती हैं कि राजस्थान में हालात, बद से बदतर हो चुके हैं।

आप के प्रदेश प्रवक्ता एवं मीडिया प्रभारी त्यागी ने राज्य में चल रही फ्री दवा योजना को लेकर भी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि योजना में दवाएं और जांच फ्री होनी चाहिए थी, लेकिन हालात ये हैं कि मरीज के परिजनों को प्राइवेट मेडिकल दुकानों की ओर रुख करना पड़ता है। फ्री दवा नहीं, फ्री जाँचें नहीं, ऊपर से प्रदेश के अस्पतालों में बेटियों की सुरक्षा नहीं। ऐसे हालातों को देखकर कहा जा सकता है कि चिकित्सा विभाग के अधिकारी, चिकित्सा मंत्री और सूबे के मुखिया ने जनता को भगवान भरोसे छोड़ दिया है।

त्यागी ने कहा कि अन्य विभागों के साथ-साथ, चिकित्सा विभाग में भी भ्रष्टाचार ने जड़ें जमा ली हैं। प्रदेश के सबसे बड़े अस्पताल एसएमएस के वित्तीय सलाहकार ब्रज भूषण शर्मा को एसीबी ने 7.8 लाख रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। इसके अलावा सर्च के दौरान एक अन्य रिश्वतखोर के घर पर 50 लाख रुपये मिलना, यह दर्शाने के

 

About Patrika Jagat