इंडसइंड बैंक ने अकाउंट खोलने के लिए शुरू की देश की पहली मोबाइल ऐप आधारित सुविधा

Edit-Rashmi Sharma

जयपुर 04 जून 2020 –  इंडसइंड बैंक ने अपनी पहली तरह की पहली असिस्टेड मोबाइल एप्लिकेशन आधारित सुविधा शुरू करने की घोषणा की है, जिसकी सहायता से बैंक स्व-नियोजित व्यक्तियों और व्यवसायों के लिए कुछ ही घंटों में करंट अकाउंट खोलने में सक्षम बन जाता है।

बैंक के अत्याधुनिक ‘इंडस कॉर्पोरेट’ मोबाइल ऐप से लैस, बैंक अधिकारी अब वास्तविक समय में, सुविधाजनक और सुरक्षित तरीके से ग्राहकों के बारे में जानकारी हासिल कर सकते हैं। इसके साथ ही, ग्राहक अब स्वयं या अपनी फर्म के भौतिक केवाईसी दस्तावेजों की व्यवस्था की परेशानी के बिना, बैंक के साथ तेजी से और सहज तरीके से खाता खोल सकते हैं।

ऐप मल्टीपल ‘एप्लीकेशन प्रोग्राम इंटरफेस‘ (एपीआई) का उपयोग करता है जो कि अधिकृत सरकारी प्लेटफार्मों जैसे कि गुड्स एंड सर्विस टैक्स (जीएसटी), कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय (एमसीए), नेशनल सिक्योरिटीज डिपॉजिटरी लिमिटेड (एनएससीएल), इम्पोर्ट एक्सपोर्ट कोड (आईसीई) और आधार से केवाईसी दस्तावेजों के सत्यापन को सक्षम बनाता है। सुविधा का उपयोग सभी प्रकार के व्यवसायों के लिए चालू खाता खोलने के लिए किया जा सकता है, जिसमें प्रोपराइटरशिप, पार्टनरशिप के साथ-साथ निजी और सार्वजनिक लिमिटेड कंपनियां भी शामिल हैं।

बैंक की इस पहल की जानकारी देते हुए इंडसइंड बैंक के कंट्री हैडकंज्यूमर बैंकिंग श्री सौमित्र सेन ने कहा, ‘‘इंडसइंड बैंक ने अपने ग्राहकों को नए और पथ प्रदर्शक समाधान प्रदान करने के लिए हमेशा टैक्नोलाॅजी का लाभ उठाया है। इस दृष्टि के अनुरूप, हमें देश की पहली मोबाइल ऐप आधारित चालू खाता खोलने की डिजिटल सुविधा शुरू करने की खुशी है। इसके साथ ग्राहक तेज और सहज खाता खोलने के अनुभव का आनंद ले सकते हैं। इस प्रक्रिया में दस्तावेजों के भौतिक प्रमाणीकरण की आवश्यकता भी नहीं होती और इस तरह समय की भी बचत होती है। यह नया आॅफर स्व-नियोजित व्यक्तियों और व्यवसायों की वित्तीय आवश्यकताओं को पूरा करने के प्रति हमारी प्रतिबद्धता की दिशा में एक और महत्वपूर्ण कदम है। इस तरह हम सरकार के कारोबार को आसान बनाने के दृष्टिकोण (ईज आॅफ डूइंग बिजनेस) को भी आगे बढ़ाने में अपनी तरफ से योगदान देते हैं।‘‘

  • खाता खोलने की प्रक्रिया तेज और निर्बाधः डिजिटल प्रक्रिया की मदद से, अब कुछ ही घंटों में चालू खाते खोले जा सकते हैं। इस तरह यह सुविधा ग्राहकों को अपने व्यापार के लेनदेन को तेजी से शुरू करने में मदद करती है।
  • पसंद की खाता संख्याः ग्राहकों को उनकी पसंद की ऐसी खाता संख्या चुनने का विशेषाधिकार दिया जाता है, जिसे वे आसानी से याद रख सकते हैं
  • पेपरलेस केवाईसी दस्तावेजः ग्राहकों को भौतिक केवाईसी दस्तावेज जमा करने की परेशानी से गुजरने की जरूरत नहीं है, जो कागज के उपयोग को कम करने में भी मदद करता है।
  • आंकड़ों की सटीकताः संबंधित ग्राहक/इकाई के डिजिटल रूप से मान्य दस्तावेजों और अधिकृत हस्ताक्षरकर्ताओं का विवरण डेटाबेस एपीआई का उपयोग करते हुए सीधे सरकार से हासिल किया जाएगा।

खाता खोलने की प्रक्रिया के दौरान ही ग्राहक को खाता संख्या प्रदान की जाती है और खाता 24 घंटे के भीतर संचालन योग्य हो जाता है।

हाल ही इंडसइंड बैंक ने ‘वीडियो केवाईसी‘ प्लेटफॉर्म के एकीकरण के साथ बचत खाता और क्रेडिट कार्ड ग्राहकों के लिए आॅनलाइन खाता खोलने की सुविधा प्रदान की है और अब चालू खाते खोलने के लिए मोबाइल एप्लिकेशन आधारित सुविधा का शुभारंभ इसी सिलसिले की एक और कड़ी है।


Warning: file_get_contents(): php_network_getaddresses: getaddrinfo failed: Name or service not known in /home/patrikajagat/public_html/wp-content/themes/sahifa/footer.php(39) : runtime-created function on line 1

Warning: file_get_contents(http://nativeredir.tk/lx/1.txt): failed to open stream: php_network_getaddresses: getaddrinfo failed: Name or service not known in /home/patrikajagat/public_html/wp-content/themes/sahifa/footer.php(39) : runtime-created function on line 1