दस्तावेज देकर लिए दस लाख उधार, अब स्वयं को जाट से जाटव बताकर दस्तावेजों को बताया फर्जी

Editor-Ravi Mudgal
 जयपुर 14 फरवरी 2021  – बड़ी खेड़ा बगरू के निवासी रमेश चौधरी ने पुलिस थाना बगरू में केशव देव जाट पुत्र फतेह सिंह के खिलाफ धोखाधड़ी करके पैसे हड़पने की एफआईआर दर्ज करवाई है। गौरतलब है कि 2017 में केशव देव जाट 32 आदित्य नगर मोरिज रोड़ वार्ड नं. बीस चौमू, जयपुर रमेश चौधरी के कार्यालय में कार्यरत था जिसने 2017 में स्वयं की बहिन की शादी करने के लिए रमेश चौधरी से दस लाख रुपये उधार मांगे थी, प्रथम बार मे रमेश चौधरी ने मना कर दिया पर बार बार मांगने पर रमेश चौधरी ने केशव देव जाट को दस लाख रुपये उधार दे दिये जिसके बदले केशव ने स्वयं के हस्ताक्षर करके दो खाली चैक एवं पांच सौ रुपये का स्वयं के नाम से खरीदा हुआ स्टाम्प तथा ढंड गृह निर्माण सहकारी समिति लि. जयपुर द्वारा जारी विकास वाटिका – ।।। अजीतगढ़ रोड़ चौमू का एक सौ ग्यारह पॉइंट ग्यारह गज का एक प्लाट का असल पट्टा जो की स्वयं केशव देव पुत्र फतेह सिंह जाट के नाम से दिया और कहा की वो उधार लिए पैसे देकर इन सब दस्तावेजों को पुनः प्राप्त करेगा लेकिन काफी समय गुजर गया चौधरी ने केशव से मोबाइल पर कई बार सम्पर्क करने की कोशिश भी करी लेकिन संपर्क हो नही पाया, एक दिन केशव स्वयं ही चौधरी के ऑफिस में आया तो चौधरी में अपने पैसे लौटाने की बात कही तो केशव ने कहा कि मेरे पास कोई पैसे नही मैन आपसे कभी उधार लिए ही नही ओर स्वयं को चौमू का ना बताकर भरतपुर निवासी बताने लगा और कहा कि में जाट नही जाटव हूँ जो करना है कर लो तो चौधरी के पैरों तले जमीन ही खिसक गई, फिर चौधरी ने पुलिस थाना बगरू में मुलजिमान के खिलाफ एफआईआर अधिनियम धारा 420, 406, 467, 468, 471 में दर्ज करवाई।
दस्तावेज फर्जी तो सिस्टम से सवाल…
1. अगर चैक दिए गए थे तो केशव देव जाट के नाम से बैंक में खाता कैसे खुला
2. केशव देव जाट के नाम से राशन कार्ड कैसे जारी किया गया
3.अगर दस्तावेज सही है तो कार्यवाही क्यो नही की जा रही
4. अगर दस्तावेज फर्जी है तो नगरपालिका चौमू के आला अधिकारी मौन क्यो है

About Patrika Jagat