राॅयल राजस्थान फाउंडेशन- पानी के लिए परंपरा बचाओ

जयपुर  17 सितंबर 2021- राजस्थान राॅयल्स की आधिकारिक सामाजिक कार्य शाखा , राॅयल राजस्थान फाउंडेषन (आर. आर. एफ.) ने राजस्थान के एक नामी न्यूज चैनल के अभियान पानी के लिए परंपरा बचाओ़ के साथ भागीदारी की है, जिसका उदेष्य राजस्थान मे जल संकट को दूर करने के लिए जल संरक्षण के प्राचीन और पारंपरिक तरीकों के प्रति जागरूकता लाना है।
आर. आर. एफ. ने महिलाआंे को पानी की उपल्ब्धता परियोजना दो वर्ष के लिए षुरू की है जिसका कार्यान्वयन साझेदारी संस्था ग्राम चेतना केन्द्र, खेडी मिलक, जयपुर द्धारा किया गया है। राजस्थान मंे पानी का स्तर बढाने के लिए इस कार्यक्रम के माध्यम से महिला किसानांे के साथ खेजड़ी और फलदार पौधों का रोपण, वर्मी कम्पोस्ट प्रषिक्षण, स्वयं सहायता समूहों (एसएचजी) का गठन, महिला किसानांे का बाजार संघ ( उंतामज मिकमतंजपवद ) की स्थापना और खेत तलाई (फार्म पोन्ड) का निर्माण किया गया है, जिससे वर्षा जल का संग्रहण कर पीने का पानी व दुूसरी फसल बोने के लिए प्रयोग मे लिया जा सके।
आर. आर. एफ. का उदेष्य/अधिदेष ( उंदकंजम ) है, औरत है तो भारत है जिसके तहत इस परियोजना मे 345 महिला किसानांे के साथ जल क्रांति की अगुवाई की जा रही है, जिससे राजस्थान मे आने वाली पीढियों की मदद हो सके।
इस कार्यक्रम का एक महत्वपूर्ण हिस्सा खेजड़ी का वृक्षारोपण है। यह राजस्थान का राज्य वृक्ष है, जो की राज्य की पारिस्थितिकी मंे मूल और स्वदेषी विषेषता रखता है। यह अपनी गहरी जड़ प्रणाली के लिए जाना जाता है। ख्ेाजड़ी के पेड़ को समय के साथ जल स्तर को संरक्षित करने और जलस्तर को बढ़ाने की अनूठी क्षमता के लिए राज्य में सदियों से जाना जाता है।
न्यूज चैलन जल संरक्षण के विभिन्न्ा पारंपरिक और प्राचीन साधनों पर जागरूकता बढ़ाने के लिए अपने अभियान पानी के लिए परम्परा बचायो के अंतर्गत इस साझेदारी को प्रदर्षित करेगा । इस अभियान को पहले ही राज्य के राज्यपाल श्री कलराज मिश्र, केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री श्री अनुराग ठाकुर, संसदीय मामलों के केंद्रीय राज्य मंत्री श्री अर्जुन मेघवाल, राज्य के पीएचईडी मंत्री डाॅ. बीडी कल्ला और जयपुर की मेयर श्री

About Patrika Jagat