आईआईएम उदयपुर ने वर्किंग एक्जीक्यूटिव्स के लिए 2-वर्षीय ऑनलाइन पीजीडीबीए पाठ्यक्रम के लिए आवेदन आमंत्रित किए

उदयपुर, 10 अगस्त, 2022- इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, उदयपुर (आईआईएम उदयपुर) ने वर्किंग एक्जीक्यूटिव्स के लिए बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा (पीजीडीबीए-डब्ल्यूई) पाठ्यक्रम के लिए प्रवेश की प्रक्रिया शुरू कर दी है। यह पाठ्यक्रम 24 महीने की अवधि का है और किसी भी विषय से स्नातक, साथ में ग्रेजुएशन के बाद न्यूनतम तीन साल का पूर्णकालिक अनुभव रखने वाले अभ्यर्थी इस पाठ्यक्रम के लिए आवेदन कर सकते हैं। यह पाठ्यक्रम सिर्फ सप्ताहांत पर वर्चुअल मोड पर आयोजित किया जाएगा, ताकि उम्मीदवारों को अपना रोजगार जारी रखते हुए कक्षाओं में भाग लेने में आसानी हो। इस पाठ्यक्रम के जरिये वर्तमान में कार्यरत पेशेवर लोगों कोे, विश्व स्तर पर रैंक और मान्यता प्राप्त आईआईएम से व्यवसाय प्रबंधन की एक मजबूत और गहरी समझ विकसित करके अपने प्रदर्शन और करियर में सुधार करने के काबिल बनाने का प्रयास करता है।

यह कार्यक्रम इस तरह से डिजाइन किया गया है कि कंपनियां चाहें, तो अपने कर्मचारियों को प्रायोजित कर सकती हैं या इस कोर्स को पूरा करने के लिए उन्हें ऋण दे सकती हैं, क्योंकि इससे न सिर्फ कर्मचारियों के कौशल में बढ़ोतरी होगी, बल्कि उन्हें अपने साथ जोड़े रखने और उन्हें निरंतर प्रेरित करने में भी मदद मिलेगी। हालांकि कोर्स करने के लिए कंपनी का प्रायोजन आवश्यक नहीं है और सीधे भी आवेदन किया जा सकता है।

आईआईएम उदयपुर के डायरेक्टर प्रोफेसर अशोक बनर्जी ने कहा, ‘‘यह पाठ्यक्रम बिजनेस मैनेजमेंट के संबंध में संपूर्ण जानकारी प्रदान करता है और इसे कुछ इस तरह तैयार किया गया है कि इसके माध्यम से लोग प्रोफेशनल ग्रोथ, लीडरशिप और स्ट्रेटेजी बनाने में कुशलता हासिल कर सकें। हमारा लक्ष्य उन लोगों की सहायता करना है जो औपचारिक प्रबंधन शिक्षा प्राप्त नहीं कर सके, ताकि उन्हें न केवल अपने ज्ञान को बढ़ाने में मदद मिले बल्कि हमेशा के लिए बदलती व्यावसायिक दुनिया में भी वे आगे बने रहें। हमें उम्मीद है कि यह कोर्स कॉरपोरेट लीडर्स को विकसित करने में भी मदद करेगा।’’

कार्यक्रम 27 मई, 2023 से शुरू होगा, छात्र कार्यक्रम के पहले 1-सप्ताह के ऑन-कैंपस मॉड्यूल के दौरान व्याख्यान में फिजिकल तौर पर शामिल होंगे। इसके उपरांत छात्रों को किसी भी अध्ययन केंद्र पर जाने की आवश्यकता नहीं है, क्योंकि पूरे पाठ्यक्रम के दौरान कहीं से भी कक्षाओं में ऑनलाइन भाग लिया जा सकता है। पाठ्यक्रम के समापन पर मई 2025 में, दूसरा और अंतिम एक सप्ताह का ऑन-कैंपस मॉड्यूल आयोजित किया जाएगा।

पाठ्यक्रम छात्रों को वैकल्पिक पाठ्यक्रमों के चयन की सुविधा प्रदान करता है। बैच कोई भी तीन पाठ्यक्रम चुन सकता है। पाठ्यक्रम के दौरान वास्तविक जीवन से जुड़े प्रसंगों/घटनाओं को कक्षा में प्रस्तुत किया जाता है और प्रतिभागियों को अपने एक्टिव तौर पर लर्निंग के लिए प्रोत्साहित किया जाता है। केस मेथड के साथ-साथ सेमिनार, सिमुलेशन, खेल, रोल-प्ले, अतिथि व्याख्यान और ग्रुप एक्सरसाइज का आयोजन भी किया जाता है। प्रतिभागियों को अपने पारस्परिक और संचार कौशल विकसित करते हुए अनुकूलन, बातचीत और समस्या-समाधान के लिए चुनौती दी जाती है। आईआईएम उदयपुर पाठ्यक्रम पूरा करने वाले सभी प्रतिभागियों को एल्यूमिनाई का दर्जा प्रदान करेगा।

पात्रता
कम से कम 10$2 की स्कूली शिक्षा और किसी भी विषय में स्नातक डिग्री या समकक्ष के साथ तीन साल की विश्वविद्यालय शिक्षा
योग्यता के बाद 31 मार्च, 2023 तक न्यूनतम तीन साल का पूर्णकालिक अनुभव
मान्य जीएमएटी स्कोर, या मान्य जीआरई स्कोर, या 2018 या उसके बाद के परीक्षणों के सीएटी स्कोर, या आईआईएमयू द्वारा आयोजित की जाने वाली प्रवेश परीक्षा का स्कोर। आईआईएमयू निम्नलिखित तिथियों पर एक ऑनलाइन परीक्षा आयोजित करेगा। ऑनलाइन टेस्ट कहीं से भी किया जा सकता है-
-16 अक्टूबर, 2022
-27 नवंबर, 2022
-08 जनवरी, 2023
-19 फरवरी, 2023
-26 मार्च, 2023
-30 अप्रैल, 2023

चयन प्रक्रिया
-इच्छुक उम्मीदवारों को ऑनलाइन आवेदन पत्र भरना होगा
-पात्रता मानदंड के आधार पर आवेदकों को शॉर्टलिस्ट किया जाएगा, और शॉर्टलिस्ट किए गए उम्मीदवार व्यक्तिगत साक्षात्कार में शामिल होंगे
-उम्मीदवार के समग्र शैक्षणिक प्रोफाइल, कार्य अनुभव, जीमैट/जीआरई/सीएटी/आईआईएमयू परीक्षा में प्राप्तांक और व्यक्तिगत साक्षात्कार में प्रदर्शन के आधार पर दिया ऑफर ऑफ एडमिशन दिया जाएगा।

About Patrika Jagat